संविधान से India शब्द हटाने की याचिका पर SC का दखल देने से इनकार

संविधान से INDIA शब्द हटाने की मांग वाली याचिका पर Supreme Court ने दखल देने से इनकार कर दिया है.Court ने कहा कि याचिका को Govt के पास representation के तौर पर माना जाए और center को ज्ञापन दिया जा सकता है. Chief justice of India (सीजेआई) एसए बोबडे ने कहा कि हम ये नहीं कर सकते क्योंकि पहले ही संविधान में India नाम ही कहा गया है.

याचिकाकर्ता ने दलील दी थी कि संविधान के अनुच्छेद 1 में संशोधन कर India शब्द हटा दिया जाए. अभी article 1 कहता है कि India अर्थातIndia राज्यों का संघ होगा. इसकी जगह संशोधन करके India शब्द हटा दिया जाए और भारत या हिन्दुस्तान कर दिया जाए. देश को मूल और प्रमाणिक नाम भारत से ही मान्यता दी जानी चाहिए.

याचिकाकर्ता ने कहा था कि India शब्द गुलामी की निशानी है और इसीलिए उसकी जगह भारत या Hindustan का इस्तेमाल होना चाहिए.English name का हटना भले ही प्रतीकात्मक होगा, लेकिन यह हमारी राष्ट्रीयता, खास तौर से भावी पीढ़ी में गर्व का बोध भरने वाला होगा.

महाराज Bhart ने भारत का संपूर्ण विस्तार किया था और उनके नाम पर ही इस देश का नाम भारत पड़ा. मध्य युग में तब तुर्क और ईरानी यहां आए तो उन्होंने सिंधु घाटी से प्रवेश किया. वो स का उच्चारण ह करते थे और इस सिंधु का अपभ्रंश हिंदू हो गया. हिंदुओं के देश को हिंदुस्तान का नाम मिला.

Like Our Page
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be the first to comment on "संविधान से India शब्द हटाने की याचिका पर SC का दखल देने से इनकार"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*