कांगड़ा चाय उत्पादन का आंकड़ा 11 लाख किलोग्राम छूने को तैयार

पालमपुर : कांगड़ा चाय उद्योग के लिए बड़ी खबर है। वर्षों बाद कांगड़ा चाय के उत्पादन का आंकड़ा लगभग 11 लाख किलोग्राम को छूने जा रहा है। कोविड-19 के बावजूद कांगड़ा चाय के उत्पादन का आंकड़ा गत कई वर्षों की अपेक्षा सुधरा है। असम तथा दार्जिलिंग की चाय की तोड़ाई अप्रैल में नहीं हो पाई थी परंतु कांगड़ा चाय को लेकर प्रदेश सरकार द्वारा समय पर स्वीकृति दिए जाने के बाद इस वर्ष अप्रैल तोड़ भी उत्तम रहा था। अप्रैल में 1.83 लाख किलोग्राम चाय का उत्पादन हुआ था। उसके पश्चात भी चाय का उत्पादन अच्छा रहने से माना जा रहा है कि इस बार लगभग 11 लाख किलोग्राम चाय उत्पादन छूने जा रहा है। कांगड़ा चाय को लेकर अप्रैल से मई तक तुड़ाई का प्रथम चरण रहता है जबकि जून-जुलाई में दूसरा चरण तथा अगस्त सितम्बर में तीसरा चरण पूरा किया जाता है जबकि अक्तूबर में चौथा चरण तुड़ाई का पूरा किया जाता है। जानकारी अनुसार इस वर्ष तीन चरण के बाद ही 9.8 लाख किलोग्राम चाय उत्पादित हो चुकी है जबकि अक्तटूबर में लगभग 100000 किलोग्राम चाय के उत्पादन की संभावना रहती है। यद्यपि अक्टूबर में कुछ समय के लिए सूखा पड़ने से उत्पादन के प्रभावित होने की भी आशंका है। परंतु फिर भी माना जा रहा है कि कांगड़ा चाय का उत्पादन लगभग 11 लाख के आंकड़े को छू सकता है। गत वर्ष 1002000 किलोग्राम चाय का उत्पादन हुआ था यद्यपि वर्ष 1998 में कांगड़ा चाय के उत्पादन का आंकड़ा 1700000 किलोग्राम के आंकड़े को छू गया था। यह आंकड़ा अभी भी उत्पादन की दृष्टि से एक बड़ी चुनौती बना हुआ है।

Like Our Page
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be the first to comment on "कांगड़ा चाय उत्पादन का आंकड़ा 11 लाख किलोग्राम छूने को तैयार"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*