कैसे चीन ने हमारे जवानों पर किया धोखे से हमला? जानिए पूरी Inside स्टोरी

पूर्वी लद्दाख में पीछे हटने के वायदे से पलटने वाले चीन ने बार्तालाप के लिए गए भारतीय सैनिकों पर हमला कर किया, जिसमें भारत के 20 Solider शहीद हो गए. भारत के जवाबी हमले में China के 43 soldiers के मारे जाने या घायल होने की खबर है|

दरअसल, लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर तनाव के बीच ये तय हो गया था कि 15June को सरहद पर चीन सेना का जमावड़ा कम होगा. चीन की सेना गलवान क्षेत्र में अपने इलाके में वापस लौटेगी. दोनों पक्षों के बीच पहले से सहमति थी कि 16June को भारतीय सेना के बड़े अधिकारियों की बैठक से पहले China की सेना पीछे हटेगी.

लेकिन इस सहमति के बावजूद जब China की सेना में कोई हरकत नहीं दिखी तो 16 Bihar Regiment के Col Santosh Babu के नेतृत्व में भारतीय सेना का छोटा दल चीनी पक्ष के साथ बातचीत के लिए गया. चर्चा के दौरान चीनी सेना पीछे हटने के मूड में नहीं दिखी. वो जानबूझकर टाल मटोल करते रहे.

खबर है कि इसके बाद china की सेना ने Indian जवानों को घेर लिया और लाठी, पत्थरों और कांटेदार तार से हमला करने लगे. इस भिड़ंत के दौरान एक भारतीय जवान की तुलना में मौके पर चीन के 3 जवान थे, लेकिन इसके बावजूद भारतीय सैनिकों ने अचानक किए गए इस हमले का ना सिर्फ डटकर मुकाबला किया बल्कि मुंहतोड़ जवाब दिया|

करीब 3 घंटे तक दोनों पक्षों में झड़प होती रही. इस हाथापाई में commanding officer संतोष बाबू को गंभीर चोटें आईं. झड़प शुरू होने के बाद भारतीय सैनिकों की 2nd team मौके पर पहुंची और फिर सेना ने china के इस धोखे पर करारा जबाव दिया. खबर है कि भारतीय सेना के पलटवार में चीनियों को भारी नुकसान पहुंचा.

News Agency ANI के मुताबिक इस हिंसक झड़प में चीन के 43 सैनिक हताहत हुए हैं. हालांकि, चीन की ओर से इसकी पुष्टि नहीं की गई है. इधर दिल्ली में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूर्वी लद्दाख में मौजूदा हालात की समीक्षा के लिए CSS बिपिन रावत और तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ बैठक की. बैठक में विदेश मंत्री एस जयशंकर भी मौजूद थे.

इस बैठक के बाद पीएम आवास पर भी एक उच्चस्तरीय बैठक हुई, जिसमें गृहमंत्री अमित शाह और विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हालात पर चर्चा की. लद्दाख में खूनी झड़प से बिगड़े हालात को देखते हुए army chief General M.M.Narvane ने अपना Pathankot दौरा cancel कर दिया.

Like Our Page
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be the first to comment on "कैसे चीन ने हमारे जवानों पर किया धोखे से हमला? जानिए पूरी Inside स्टोरी"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*