जिला चंबा में होम क्वारंटाइन की गई एक महिला की मौत ,22 जून को चंडीगढ़ से लौटी थी बुजुर्ग

हिमाचल प्रदेश मे जिला चंबा में Home quarantine की गई एक महिला की मौत हो गई। महिला चंबा के द्रड्डा क्षेत्र की रहने वाली है, जो 22 जून को चंडीगढ़ से घर पहुंची थी। स्वास्थ्य विभाग ने महिला का कोरोना सैंपल लेकर जांच के लिए लैब में भेज दिया है। जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। द्रड्डा क्षेत्र की 64 वर्षीय महिला करीब दो माह पहले चंडीगढ़ में अपनी बेटी के पास गई हुई थी। घर पहुंचने पर तो उसे एहतियात के तौर पर होम क्वारंटाइन कर दिया था। स्वास्थ्य विभाग ने स्पष्ट किया है कि उक्त महिला करीब चार से पांच वर्ष पहले कहीं गिर गई थी, जिस कारण उसकी टांगों में चोट आई थी। इसके बाद से वह लगातार टांग की दर्द से ग्रस्त थी।  CMO डॉक्‍टर राजेश गुलेरी का कहना है महिला में किसी भी प्रकार से कोरोना के लक्षण नहीं थे। लेकिन इसके बावजूद विभाग द्वारा महिला का कोरोना का सैंपल लिया गया, जिसकी जांच रिपोर्ट जल्द विभाग के पास पहुंच जाएगी।

LIKE OUR PAGE https://www.facebook.com/DigitalPalampur

जिला चंबा में अब तक कुल 52 लोग संक्रमित हो चुके हैं, जिनमें से 43 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। वर्तमान में एक्टिव केस की संख्या आठ है, जबकि, 7319 सैंपल स्वास्थ्य विभाग द्वारा अब तक लिए जा चुके हैं। विभाग की ओर से हर दिन कोरोना महामारी की सही स्थिति का पता लगाने के लिए सैंपल लिए जा रहे हैं, जिन्हें जांच के लिए लैब में भेजा जा रहा है। जब से मेडिकल कॉलेज चंबा में आरटी-पीसीआर लैब स्थापित की गई है, तब से सभी सैंपलों की जांच यहीं की जा रही है।

स्वस्थ विभाग की ओर से सोमवार शाम को दी गई रिपोर्ट में 26 नए केस सामने आए है, जिससे प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 942 हो गई है। इसमें एक्टिव मरीजों की संख्या 366 है जिनका विभिन्न जिलों में इलाज चल रहा है।प्रदेश में सोमवार को कोरोना पॉजिटिव 38 मरीज ठीक होकर अपने घरों को गए। इसमें कोरोना संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित जिले हमीरपुर के 19 मरीज भी थे। प्रदेश में अब तक संक्रमण से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 556 हो गई है।

Like Our Page
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be the first to comment on "जिला चंबा में होम क्वारंटाइन की गई एक महिला की मौत ,22 जून को चंडीगढ़ से लौटी थी बुजुर्ग"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*