चीन के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में केस करेगा हिमाचल का वकील

महामारी कोरोना वायरस को पूरे विश्व में फैलाने को लेकर International Court of Justice Netherlands में भारत का एक वकील चीन के खिलाफ वैश्विक महामारी कोरोना वायरस को पूरे विश्व में फैलाने को लेकर केस दर्ज कराएगा. धर्मशाला के अधिवक्ता विश्व चक्षु ने केस करने के लिए कोर्ट में परमिशन के लिए लेटर भी भेज दिया है. हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला के अधिवक्ता विश्व चक्षु ने नीदरलैंड कोर्ट ऑफ जस्टिस के समक्ष यह मामला उठाया है. पत्र में कहा गया है कि Covid -19ने पूरे विश्व में तबाही हुई है. इसी विषय को देखते हुए धर्मशाला के एडवोकेट विश्व चक्षु ने अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में चीन के खिलाफ केस दर्ज करने की अनुमति मांगी है.

कोरोना महामारी के कारण लगभग एक करोड़ से अधिक संक्रमित मामले सामने आ चुके हैं. साथ ही पांच लाख से अधिक मौतें भी इस वायरस के कारण हो चुकी हैं. इसमें भारत की बात करें तो देश में पहला केस 30 जनवरी 2020 को आया था. अब महामारी के प्रकोप से देश में पांच लाख 30 हज़ार लोग संक्रमित हो चुके हैं, जिनमें से 16 हज़ार 103 की मृत्यु हो चुकी है.एडवोकेट विश्व चक्षु ने कहा कि इन सभी विषयों के लिए चीन ही जिम्मेदार है. उन्होंने कहा कि इंटरनेशनल कोर्ट में चीन के खिलाफ केस करने की अनुमति  मांगी है. अगर अनुमति मिल जाती है, तो भारत की तरफ से उनके खिलाफ केस दर्ज करूंगा. साथ ही उन्होंने कहा कि भारत में पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में उठाए गए कदम भी काफी कारगर सिद्ध हुए हैं. उन्होंने बताया कि पत्र की प्रतिलिपि सर्वोच्च न्यायालय, भारत सरकार, हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट और हिमाचल सरकार को भेज दी गई है. एडवोकेट विश्व चक्षु अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में चीन के खिलाफ केस दर्ज करने की पूरी तैयारी कर चुके है |

Like Our Page
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be the first to comment on "चीन के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में केस करेगा हिमाचल का वकील"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*