सरकार ने प्रदेश मे प्राइवेट बस ऑपरेटरों को चार महीने तक टैक्स में छूट दी

प्रदेश में निजी बस ऑपरेटरों से बीते अप्रैल से जुलाई 2020 तक स्पेशल रोड टैक्स नहीं लिया जाएगा। सरकार ने पिछले चार महीने का ये रोड टैक्स माफ करके प्रदेश में तीन हजार से अधिक निजी बस चालको को राहत दी है। हालांकि प्रदेश में निजी बस चालक सरकार से 2021 तक रोड टैक्स में छूट देने की मांग कर रहे हैं। लेकिन सरकार ने अभी चार महीने तक ही टैक्स में छूट दी है। 
अगर बस ऑपरेटर गाड़ी की पासिंग भी करवाते हैं तो उनसे पिछला टैक्स भी नहीं वसूला जाएगा। जिन ट्रांसपोर्टरों ने मार्च महीने टैक्स जमा नहीं करवाया था वह अगस्त में बिना किसी पैनल्टी के टैक्स जमा करवा सकते हैं। परिवहन विभाग के निदेशक कैप्टन जेएम पठानिया ने कहा कि हिमाचल देश का पहला राज्य है जहां पर निजी बस ऑपरेटरों को चार महीने तक रोड टैक्स माफ किया गया है। गाड़ी न चलने की वजह से आर्थिक मंदी की मार झेल रहे ट्रांसपोर्टरों से सरकार जुलाई तक कोई रोड टैक्स नहीं लेगी। चाहे वह अपनी  कोई चलाए या न चलाए। 

एनएच का 6 रुपए चार पैसे प्रति सीट प्रति किमी

स्टेट हाई-वे का 5 रुपए चार पैसे प्रति सीट प्रति किमी

ग्रामीण रुट पर चार रुपए तीन पैसे प्रति सीट प्रति किमी तय किया गया है।

प्राइवेट बस चालक संघ सरकार से कोरोना संकट काल तक बस किराए में वृद्धि किए जाने की मांग कर रहे है। साथ ही संघ के पदाधिकारी अपनी कुछ मांगो को  लेकर मुख्यमंत्री और परिवहन मंत्री के साथ बैठक करने की भी मांग कर रहे हैं। इसे लेकर संघ ने अपना एक मांग पत्र तैयार किया है। संघ के महासचिव रमेश कंवर ने कहा कि बस चलाने के बाद जो 40% सीटें बचती हैं उसका किराया सब्सिडी के रुप में सरकार वहन करे।

Like Our Page
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be the first to comment on "सरकार ने प्रदेश मे प्राइवेट बस ऑपरेटरों को चार महीने तक टैक्स में छूट दी"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*