आईजीएमसी शिमला के ई ब्लॉक में अब कोरोना पॉजिटिव किडनी मरीजों का डायलिसिस किया जाएगा

हिमाचल प्रदेश  के स्वास्थ्य संस्थान आईजीएमसी में अब कोरोना पॉजिटिव किडनी मरीजों का डायलिसिस ई ब्लॉक मे किया जाएगा। अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में ही दो डायलिसिस मशीनों के अलावा 18 लाख का पोर्टेबल आरओ सिस्टम लगाये  गये है।

शनिवार को हमीरपुर की कोरोना पॉजिटिव महिला मरीज का डायलिसिस भी किया गया है। किडनी से पीड़ित इस महिला का पहली बार डायलिसिस हुआ है। आईजीएमसी में अब तक किडनी से पीड़ित कोरोना पॉजिटिव मरीजों को डायलिसिस करवाने के लिए नेफ्रोलॉजी विभाग लाया जाता था।

इसमे  पॉजिटिव मरीजों से अन्य में भी बीमारी फैलने का खतरा अधिक रहता था। मरीज को अस्पताल से होकर विभाग में लाया जाता था और डायलिसिस पूरा होने के बाद दोबारा से उसे आइसोलेशन वार्ड में भेजा जाता था। जिसके कारण हॉस्पिटल  में 24 घंटे तक रूटीन के डायलिसिस बंद कर दिए जाते थे। वहीं, मरीजों को अगली डेट पर डायलिसिस करवाने के लिए आना पड़ता था।  परंतु अब मरीज़ो को ऐसी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा |

Like Our Page
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be the first to comment on "आईजीएमसी शिमला के ई ब्लॉक में अब कोरोना पॉजिटिव किडनी मरीजों का डायलिसिस किया जाएगा"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*