China माल का बहिष्कार करेंगे व्यापारी, December 2021 तक China को देंगे 1 लाख करोड़ का झटका

confederation of all India आल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) के तहत व्यापारियों ने करीब 3,000 ऐसी वस्तुओं की list बनाई है जिनका बड़ा हिस्सा china से आयात किया जाता है, लेकिन जिनका विकल्प भारत में मौजूद है या तैयार किया जा सकता है. व्यापारियों ने china से आयातित माल का बहिष्कार करने का बुधवार को एक अभियान शुरू किया है.

देश के करोड़ों खुदरा और थोक व्यापारियों ने china से आयातित माल का बहिष्कार करने का बुधवार को एक अभियान शुरू किया है. इस अभियान के द्वारा व्यापारियों की plan december 2021 तक चीन से आयात बिल 1 लाख करोड़ रुपये का घटाना है.

confederation of all India ट्रेडर्स (CAIT) के तहत व्यापारियों ने करीब 3,000 ऐसी वस्तुओं की list बनाई है जिनका बड़ा हिस्सा china से आयात किया जाता है, लेकिन जिनका विकल्प भारत में मौजूद है या तैयार किया जा सकता है. CAIT ने जिन वस्तुओं की सूची बनाई है, उनमें मुख्यत: Electronics goods , FMCG उत्पाद, खिलौने, gift item ,confectionery उत्पाद, कपड़े, घड़ियां और कई तरह के plastic उत्पाद शामिल हैं.

गौरतलब है कि वर्ष 2019-20 में India और china के बीच द्विपक्षीय व्यापार करीब 81.6 अरब डॉलर का हुआ था जिसमें से china से आने वाला माल यानी आयात करीब 65.26 अरब $ का था.

CAIT के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल कहते हैं, ‘साल 2001 में china से होने वाला आयात सिर्फ 2 अरब dollar का था. लेकिन पिछले 20 साल में यह बढ़कर करीब 70 अरब dollar तक पहुंच गया. यानी इसमें 3500%की जबरदस्त बढ़त हुई है. इससे पता चलता है कि उन्होंने भारत के खुदरा बाजार पर कब्जे की कितनी सोची-समझी रणनीति बनाई है.’

उन्होंने कहा, ‘मुझे यह स्वीकार करने में हिचक नहीं है कि इसमें कारोबारियों, व्यापारियों और सरकार की भी गलती रही है, क्योंकि हमने पहले से इसके विकल्पों के बारे में नहीं सोचा और china को काफी आगे बढ़ने का मौका मिल गया. अब बिल्कुल सही समय है कि इन गलतियों को दुरुस्त किया जाए.’

Like Our Page
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be the first to comment on "China माल का बहिष्कार करेंगे व्यापारी, December 2021 तक China को देंगे 1 लाख करोड़ का झटका"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*