बैजनाथ बस डिपो का कंडक्टर ऊना में रूट के दौरान नशे में धुत्त,सवारियां हुई परेशान

बैजनाथ बस डिपो का कंडक्टर ऊना में रूट के दौरान नशे में धुत्त हो गया। इस कारण सवारियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। बुधवार रात को ऊना में पहुंची बैजनाथ डिपो की एचआरटीसी बस के टल्ली कंडक्टर को पुलिस ने पकड़ कर मेडिकल करवाया जहां मेडिकल में सैंपल लैब भेजे गए हैं। वहीं प्रारंभिक रिपोर्ट में आरोपित कंडक्टर से शराब  की दुर्गंध आने की बात सामने आयी कंडक्टर सुरिंदर कुमार गांव सतेहड़ बैजनाथ जिला कांगड़ा का रहने वाला है।

जानकारी  अनुसार बुधवार करीब नौ बजे बैजनाथ डिपो की एचआरटीसी की बस बैजनाथ से  हरिद्वार   के लिए रवाना हुई थी । रात करीब नौ बजे के बाद जब बस अड्डा  ऊना पर काउंटर पर  पहुंची तो  कंडक्टर बस से बाहर गया। कुछ देर  बाद जब बस चलने वाली  थी तो कंडक्टर बस में वापस नहीं आया। कुछ देर  देखने के बाद बस चालक ने खुद कंडक्टर को इधर उधर ढूंढना शुरू किया  । करीब पौने घंटे  के  बाद बस सवारियों ने भी कंडक्टर की तलाश शुरू कर दी।

टांडा अस्‍पताल मार्ग मे HRTC बस और जीप के बीच हुई टक्‍कर


आखिरकार जब बस कंडक्टर मिला तो नशे की हालत में पाया गया। परिचालक की इस हालत को देखकर सवारियों ने लेकर विरोध जताया और बस में आगे जाने से इनकार कर दिया। काफी देर तक विवाद चलता रहा। मौके पर ऊना बस अड्डा प्रभारी भी पहुंचे। जिसके बाद सवारियों को दूसरी एचआरटीसी बस का इंतज़ाम कर भेजा गया।

उधर एचआरटीसी के अधिकारियों ने मामले की सूचना के बाद आगामी कार्रवाई शुरू की तथा मौके पर पुलिस को बुलाया। डीएसपी अशोक वर्मा ने बताया कि कंडक्टर सुरिंद्र का मेडिकल कराकर उसे ऊना अड्डा प्रभारी के हवाले किया गया है। मामले में आगामी कार्रवाई की जा रही है। दूसरी ओर आरएम जगर नाथ ने बताया कि आरोपित परिचालक के खिलाफ कार्रवाई के लिए पुलिस और मेडिकल रिपोर्ट बैजनाथ डिपो को भेजी जाएगी। पुलिस ने परिचालक का मेडिकल करने के बाद उसे अड्डा प्रभारी ऊना के सुपुर्द कर दिया है। उधर ऊना एचआरटीसी प्रबंधन अब मेडिकल एवं पुलिस रिपोर्ट को बैजनाथ डिपो के पदाधिकारियों के हवाले करेगा। जिसके बाद कंडक्टर पर सख्त कार्रवाई होगी।

Like Our Page
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Be the first to comment on "बैजनाथ बस डिपो का कंडक्टर ऊना में रूट के दौरान नशे में धुत्त,सवारियां हुई परेशान"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*